Home Uttarakhand News एसआईटी की जांच में पाए गए 64 फर्जी शिक्षक

एसआईटी की जांच में पाए गए 64 फर्जी शिक्षक

-

A good teacher will inspire hope, ignite the imagination, and instill a love of learning .
America के मशहूर वकील, राजनेता और दार्शनिक ब्रैड हेनरी लव ने कहा था “एक अच्छा शिक्षक आशा की प्रेरणा, कल्पना को साकार और अध्यन के लिए प्रेम जगा सकता है”

इसी के उलट हमारे प्रदेश में कुछ ऐसे शिक्षक भी हैं जो फर्जी दस्तावेजों के साथ हमारी आने वाली पीढ़ी को काबिल और नेक इंसान बनने का पाठ पढ़ा रहे हैं।

जिस प्रदेश में हजारों युवा बेरोजगारी की मार झेल रहे हैं, हर दिन सड़कों पर उतर कर सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर नौकरियों की मांग कर रहे हैं। वहीं कुछ ऐसे लोग भी हैं, जो फर्जी दस्तावेजों के आधार पर प्रदेश में सालों से ऐसे पदों पर बैठे हैं जिनका मूलतः काम हमारी आने वाली पीढ़ी को शिक्षित कर उन्हें काबिल और एक जिम्मेदार नागरिक बनाना है।

जी हां , हम आपको बता दें कि एसआईटी की जांच के दौरान अब तक 56000 प्रमाण पत्रों में से 21000 की जांच कराई जा चुकी है। जिसमें से 64 शिक्षकों के प्रमाण पत्र अमान्य पाए गए हैं और अब इस सूची में दो और शिक्षकों की B.Ed डिग्री अमान्य पाई गई है।
एसआईटी जांच में देहरादून के राजकीय प्राथमिक विद्यालय ‘बढ़ेरना’
की सहायक अध्यापिका नीना और रुद्रप्रयाग के शिक्षक राजू लाल की B.Ed की डिग्री अमान्य पाई गई है।

सहायक अध्यापिका नीना वर्ष 2014 में भर्ती हुई थी। मंगलूर के बर्हमपुर, जट गांव निवासी नीना ने जो B.Ed की डिग्री विभाग को दर्शाई थी, वह डिग्री गुवाहाटी विश्वविद्यालय से मिली दर्शाई गई थी। सत्यापन के दौरान एक बार तो परीक्षा नियंत्रण की तरफ से डिग्री को सही होने का प्रमाण पत्र मिल गया था। मगर शक होने पर एसआईटी द्वारा दूसरी बार जांच कराई गई तो दस्तावेजों के फर्जी होने का राज उजागर हो गया। विश्वविद्यालय प्रशासन ने भी उस रोल नंबर पर नीना को B.Ed की डिग्री जारी करने से साफ तौर पर इनकार कर दिया।

वहीं दूसरा मामला उखीमठ ,रुद्रप्रयाग निवासी राजू लाल का है राजू लाल ने जो डिग्री विभाग को दर्शाई थी, वह डिग्री चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय से मिली दर्शाई गई थी और सहारनपुर के जेवी जैन महाविद्यालय से B.Ed करने की बात कही गई थी लेकिन एसआईटी जांच में यह डिग्री अमान्य पाई गई।

वहीं अपर पुलिस अधीक्षक और एसआईटी प्रभारी श्वेता चौबे ने बताया कि दोनों शिक्षकों की डिग्री अमान्य पाई गई है और अन्य प्रमाण पत्रों का भी सत्यापन किया जा रहा है और डिग्री अमान्य पाए जाने के आधार पर उनके खिलाफ FIR दर्ज कराने की संस्तुति शिक्षा विभाग को कर दी गई है।

शिक्षक?

The mediocre teacher tells, good teacher explains, superior teacher demonstrates and great teacher inspires.
औसत शिक्षक बताता है, अच्छा शिक्षक समझाता है,बेहतर शिक्षक करके दिखाता है और महान अध्यापक प्रेरणा देता है।

Loading...