toxic liquor in Uttarakhand

प्रदेश में जहरीली शराब की वजह से हुई कई मौत, मचा हड़कंप, अब तक 31 कारोबारी हुए गिरफ्तार…

Uttarakhand News

उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के दो पड़ोसी जिलों हरिद्वार और सहारनपुर में जहरीली शराब पीने से कई मौतें हो चुकी है। लगातार हुई इन घटनाओं से सरकार के होश उड़े हुए है।

दोनों राज्यों में जहरीली शराब पीने से मरने वालों का आंकड़ा शनिवार को बढ़कर 70 पहुंच गया। इस मामले में दोनों राज्यों की सरकारों ने कई प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों को उनकी लापरवाही के चलते निलंबित किया।

यूपी और उत्‍तराखंड सरकार ने मृतकों के परिवारों को दो-दो लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है।

यह भी पढ़ें – दिल्ली से देहरादून तक बिना ब्रेक के 100 किमी की रफ़्तार से दौड़ेंगी गाड़ियां, NH709-B से उत्तराखंड की जनता….

राज्य में अब तक हो चुकी है 32 मौतें….

जहरीली शराब के सेवन से उत्तराखंड में ही 32 मौतें हो चुकी हैं। पुलिस कार्रवाई में अब तक 31 शराब कारोबारियों को गिरफ्तार किया गया है। जिनके पास से 509 क्वार्टर और 91 लीटर कच्ची शराब भी बरामद की गई है।

दोनों CM ने किया ज्‍वाइंट कमेटी बनाने का निर्णय

उत्‍तराखंड के मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ऐसी घटनाएं रोकने हेतु यूपी के CM योगी आदित्‍यनाथ से बातचीत करी और दोनों ने इस पर ज्वाइंट कमेटी बनाने का निर्णय लिया। रावत ने कहा है कि इस मामले में दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी।

जानिए इन चीजों का होता था शराब बनाने में इस्तेमाल…

सूत्रों के मुताबिक पता चला है कि कि अवैध शराब को तैयार करने के लिए यूरिया, आयोडेक्स, ऑक्सिटॉसिन का इस्तेमाल किया जाता है। इतना ही नहीं, शराब को ज्यादा नशीली बनाने के लिए इसमें सांप और छिपकली तक मिला दी जाती है।

यह भी पढ़ें – प्रदेश में सरकार जल्द करेगी स्कूल-कॉलेजों के मेधावी छात्रों को लैपटॉप वितरित….

यह भी पढ़ें – चुनाव में EVM मशीन के हैक होने का बड़ा खुलासा, ये पार्टियाँ हैं शामिल

यह भी पढ़ें – नौकरी छोड़कर की सेब की खेती और फिर खरीदी 1.40 करोड़ की रेंज रोवर.. पढ़िए..

Leave a Reply

Your email address will not be published.