Menu Close

अपनी ही दोस्त को मार कर सूटकेस में बंद कर नाले में फेंका, परिवार वालों से झूठ कह मस्कट ले जाने की बात की थी

25-Year-old engineer's body found in Suitcase

हैदराबाद: 25 अप्रैल को शहर के एक लॉज में एक 25 वर्षीय इंजीनियर की उसके दोस्त ने गला दबाकर हत्या कर दी। लड़की की हत्या करने के बाद, आरोपी ने शव को सूटकेस में भर दिया और सुराराम के नाले के नीचे छुपा दिया।पीड़ित लावण्या गाचीबोवली में एक इंजीनियर थी। वह सुनील के साथ प्यार में थी। सुनील उर्फ दिलीप, 25 वर्षीय, सोरामारम कॉलोनी का एक structural engineer था ।

आरसी पुरम के निरीक्षक आर रामचंद्र राव ने बताया कि, “लावण्या और सुनील कॉलेज में साथ पढ़ते थे। लावण्या सुनील से, उससे शादी करने के लिए कह रही थी। सुनील ने लवानिया और उसके परिवार के सदस्यों को बताया कि उसे मस्कट में नौकरी मिल गई है। उसने उसके परिवार को कहा की वो लावण्या को भी उसके साथ भेजें ताकि वह उसे वहाँ नौकरी दिला सके। लावण्या के परिवार वाले उसकी बात मान गए ।”

यह भी पढ़ें – टोल कर्मचारी को कार ने 6 किलोमीटर तक घसीटा, घटना सीसीटीवी पर हुई कैद..देखें

लड़की को मार कर सूटकेस में डाला

पुलिस ने बताया कि, ” 4 अप्रैल की शाम, सुनील, लावण्या और उसके परिवार के सदस्यों के साथ आरजीआई हवाई अड्डे गए।उसके परिवार के सदस्यों के हवाई अड्डे से जाने के बाद, जहाज में सवार होने के बजाय, सुनील ने लावण्या को हवाई अड्डे से बाहर निकाला और शमशाबाद में एक लॉज में ले गया। जहां उसने उसे मारकर शव को एक सूटकेस में भर दिया।”

यह भी पढ़ें – धोनी पर लगना चाहिए था बैन, जुर्माना लगाकर छोड़ना काफी नहीं: वीरेंद्र सहवाग

सुनील ने शव को कैब में सोराराम ले जाकर एक नाले की पुलिया के नीचे छिपा दिया। जैसा कि लावण्या ने अपने माता-पिता को बताया था कि वह मस्कट से 7 अप्रैल तक घर वापस आ जाएगी तो उसकी बहन ने व्हाट्सएप के माध्यम से चैट करने की कोशिश की। सुनील ने लावण्या के फोन से चैटिंग की लेकिन आखिरकार 7 अप्रैल को उसने अपना फोन बंद कर दिया ।

परिवार द्वारा दर्ज की गई शिकायत के आधार पर, आरसी पुरम पुलिस ने 7 अप्रैल को एक गुमशुदगी दर्ज की। जब पुलिस ने कॉल डिटेल का विश्लेषण किया तो शनिवार को, पुलिस ने उसे सोराराम में उसके घर पर पकड़ा और उसने लावण्या को मारने की बात कबूल कर ली। उसने बताया की उसने उसे इसलिए मारा क्योंकि वह उसे शादी करने के लिए मजबूर कर रही थी। पुलिस ने लावण्या का क्षत-विक्षत शव बरामद किया और उसे पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। सुनील को आईपीसी की धारा 302 (हत्या) के तहत गिरफ्तार किया गया था।

यह भी पढ़ें – जब ‘जनरल बकरा’ ने बचाई थी गढ़वाल राइफल्स के जवानों की जान, जानिए कहानी ‘जनरल बकरा बैजू’ की…

यह भी पढ़ें -बीजेपी का बड़ा वादा – 1 रुपये में मिलेगा पांच किलो चावल, 500 ग्राम दाल और नमक.. पढिये

यह भी पढ़ें – पुणे के एक शख्स ने अपनी बहन को 30 लाख रुपये की बीमा राशि के लिए मार डाला

यह भी पढ़ें – मंदिर में कुत्ता कीर्तन गायकों के साथ गाता हुआ, पूरे इंटरनेट पर छाया हुआ है ये कुत्ता.. आप भी देखें

Like-We-uttarakhand-logo.jpg