Home Uttarakhand News उत्तराखंड की पहली मेट्रो परियोजना में होंगे 2 कॉरिडोर, न्यूनतम किराया होगा...

उत्तराखंड की पहली मेट्रो परियोजना में होंगे 2 कॉरिडोर, न्यूनतम किराया होगा 13 रुपये

-

राज्य की राजधानी देहरादून में उत्तराखंड की पहली मेट्रो रेल परियोजना के लिए कॉमन मोबिलिटी प्रोग्राम (CMP) तैयार है। प्रोग्राम में कहा गया है कि एक बार निर्माण पूरा होने के बाद 1.69 लाख से अधिक यात्री दैनिक आधार पर मेट्रो सेवा का लाभ उठा पाएंगे। एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार लाइट रेल ट्रांजिट सिस्टम (LRTS) पर आधारित दून मेट्रो रेल परियोजना के दो कॉरिडोर होंगे।

उत्तराखंड मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन के प्रबंध निदेशक जितेंद्र त्यागी के अनुसार CMP में दून मेट्रो के दो कॉरिडोर के लिए दो अलग-अलग विकल्प सुझाए गये हैं। दोनों विकल्प इंटर स्टेट बस टर्मिनस (ISBT) को कंड़ोली से जोड़ने वाले पहले कॉरिडोर को बनाए रखते हैं, दूसरे कॉरिडोर के दो विकल्प हैं – पहला वन अनुसंधान संस्थान (FRI) को रिस्पना पुल और दूसरा FRI को रायपुर क्षेत्र से जोड़ना।

बड़ी खबरें: उत्तराखंड बोर्ड हो सकता है बंद, दुर्गम इलाके के छात्रों के लिए खुशी….

दूसरे कॉरिडोर के दोनों विकल्पों में यात्रियों की संख्या लगभग समान है। हालांकि, रिपोर्ट के अनुसार, रखरखाव डिपो के निर्माण के लिए आवश्यक स्थान, जो तकनीकी रूप से अधिक महत्वपूर्ण है, रायपुर क्षेत्र में आसानी से उपलब्ध होगा। इस वजह से शहर में दूसरी मेट्रो लाइन के लिए एफआरआई-रायपुर कॉरिडोर को अधिक अनुकूल बताया गया है।

CMP, आईएसबीटी-कंड़ोली कॉरिडोर भविष्य के विस्तार का भी उल्लेख करता है और दो विकल्पों का सुझाव देता है – पहला कंड़ोली को कैनाल रोड से जोड़ने वाला और दूसरा कंडोली और मसूरी रोड को जोड़ने वाला।

यह भी पढ़ें – नवोदय विद्यालयों में 49 बच्चों के सुसाइड का मामला, मानवाधिकार आयोग ने सरकार को भेजा नोटिस

जितेंद्र त्यागी ने कहा कि मेट्रो के लिए किराया वर्ष 2023 के अनुसार तय किया गया है और इसकी कीमत न्यूनतम 13 रुपये होगी जबकि टिकट की अधिकतम कीमत 40 रुपये होगी।

Loading...