Home National News Missing AN-32 Aircraft: यहां मिला भारतीय वायुसेना का लापता हुआ विमान एएन-32...

Missing AN-32 Aircraft: यहां मिला भारतीय वायुसेना का लापता हुआ विमान एएन-32 का मलवा, 13 लोग थे सवार

-

Missing AN-32 Aircraft: भारतीय वायुसेना के 1 हफ्ते से लापता हुए विमान एएन-32 का मलबा मिल गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार मलबा अरुणाचल प्रदेश के लिपो के उत्तर में नजर आया है। भारतीय वायुसेना के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से यह जानकारी सामने आई है। वायुसेना के अनुसार हेलिकॉप्टर से सर्च ऑपरेशन के दौरान यह मलबा नजर आया। बता दें कि AN-32 विमान 3 जून को लापता हुआ था।

भारतीय वायुसेना ने कहा, “अरुणाचल प्रदेश के टाटो इलाके के उत्तरपूर्व में लीपो से 16 किलोमीटर उत्तर में लगभग 12,000 फुट की ऊंचाई पर वायुसेना के लापता ए एन-32 विमान का मलवा आज देखा गया। अब हेलीकॉप्टर विस्तृत इलाके में तलाश कर रहे हैं”। 3 जून से लेकर अब तक लापता हुए इस विमान को तलाशने के लिए इंडियन एयरफोर्स ने लगातार अभियान जारी कर रखा था।

भारतीय वायु सेना के MI-17 हेलीकॉप्टरों ने इसका मलबा पाया है। वायु सेना ने बताया कि क्षेत्र Mi-17 हेलीकॉप्टर द्वारा 12000 फीट की अनुमानित ऊंचाई पर नॉर्थ ऑफ लिपो में देखा गया।

Read Also:

Missing AN-32 Aircraft: उड़ान भरने के कुछ समय बाद ही टूट गया था संपर्क

आपको बता दें कि यह विमान पिछले 8 दिनों से लापता था। इस विमान ने 3 जून को दोपहर 12.27 पर असम के जोरहाट के लिए उड़ान भरी थी, और एक बजे उसका संपर्क टूट गया था। इस विमान में 8 क्रू मेंबर समेत 13 लोग सवार थे। भारतीय वायु सेना का कहना है कि विमान में सवार लोगों के बारे में जानकारी इकठ्ठा की जा रही है।

1986 में में हुआ था एयरफोर्स में शामिल

रूस निर्मित एएन-32 (AN-32) परिवहन विमान को 1986 में भारतीय वायु सेना में शामिल किया गया था। वर्तमान में, भारतीय वायुसेना 105 विमानों को संचालित करती है जो ऊंचे क्षेत्रों में भारतीय सैनिकों को लैस करने और स्टॉक करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इसमें चीनी सीमा भी शामिल है। 2009 में भारत ने 400 मिलियन का कॉन्ट्रैक्ट यूक्रेन के साथ किया था जिसमें एएन-32 की ऑपरेशन लाइफ को अपग्रेड और एक्सटेंड करने की बात कही गई थी। अपग्रेड किया गया एएन-32 आरई एयरक्राफ्ट 46 में 2 कॉन्टेमपररी इमरजेंसी लोकेटर ट्रांसमीटर्स शामिल किए गए हैं। लेकिन एएन-32 को अब तक अपग्रेड नहीं किया गया था।

Read Also: