Menu Close

Mount Everest: विश्व रिकॉर्ड बना चुकी उत्तराखंड की शीतल ने किया माउंट एवरेस्ट फतह

Pithoragarh Girl Shital Raj Conquers Mount Everest

उत्तराखंड: कहते हैं इरादे अगर बुलंद हों तो उमंगें फौलाद बनकर खड़ी हो जाती हैं। पिथौरागढ़ के सल्मोड़ा गांव की रहने वाली शीतल राज ने कुछ ऐसा ही कर दिखाया। सोमवार को Base Camp से एवरेस्ट समिट (Everest Summit) करने निकली शीतल ने आज सुबह(16 मई) दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट (Mount Everest) समिट कर उत्तराखंड का नाम रोशन किया है।

पहले बना चुकी है विश्व रिकॉर्ड

बेहद प्रतिभाशाली पर्वतारोही शीतल राज सबसे कम उम्र में दुनिया की तीसरी सबसे ऊंची चोटी कंचनजंगा (28169ft) फतह कर वर्ल्ड रिकॉर्ड बना चुकी हैं। उन्होंने इससे पहले संतोपथ और त्रिशूल चोटियां भी फतह की थी। उसी समय शीतल को माउंट एवरेस्ट अभियान के लिए चुना गया था।

Indian Army New Uniform: जल्द भारतीय सेना देखेगी नई वर्दी में, नए अवतार में कैसे दिखेंगे जवान

प्रतिष्ठित पर्वतारोही योगेश गब्र्याल की देखरेख में लिया प्रशिक्षण

जानकारी के अनुसार शीतल पांच अप्रैल को काठमांडू से एवरेस्ट के बेसकैंप के लिए रवाना हुईं थीं। वह 15 अप्रैल को बेस कैंप पहुंचीं। उन्होंने 12 मई तक बेस कैंप में अन्य पर्वतारोहियों के साथ रॉक क्लाइबिंग का अभ्यास किया।

शीतल के कोच व उत्तराखंड के प्रतिष्ठित पर्वतारोही धारचूला निवासी योगेश गर्ब्याल ने बताया कि 15 मई की रात ही शीतल एवरेस्ट की चोटी को फतह के लिए निकल गई थी। और आज सुबह (16 मई)उसने चोटी फतह कर ली। शीतल की इस बड़ी उपलब्धि से पूरे प्रदेश में खुशी का माहौल है।

यह भी पढ़ें- जब ‘जनरल बकरा’ ने बचाई थी गढ़वाल राइफल्स के जवानों की जान, जानिए कहानी ‘जनरल बकरा बैजू’ की…

यह भी पढ़ें- बिना फ्रंट टायर के म्यांमार के पायलट ने कराई इमरजेंसी लैंडिंग, जिसमे 89 यात्री सवार थे

Related Posts