Home Uttarakhand News 8 बार चाकू घोंप घोंप कर मार डाला देवभूमि की इस बेटी...

8 बार चाकू घोंप घोंप कर मार डाला देवभूमि की इस बेटी को, दरिंदों ने पार की सारी हदें… पढ़ें पूरी खबर

-

Sales girl killed: काशीपुर में एक मोबाइल शॉप में काम करने वाली सेल्स गर्ल दिनदहाड़े निर्मम हत्या कर दी गई। उत्तराखंड के काशीपुर में दिनदहाड़े मोबाइल शोरूम में हुई सेल्स गर्ल की हत्या ने सबको हिला कर रख दिया। जानकारी के मुताबिक, हत्या काशीपुर के गिरीताल इलाके में एक मोबाइल की दुकान में हुई। हत्यारे ने चाकू से मृतका पिंकी के पेट पर आठ बार वार किए। ये निशान छह से 10 सेमी गहराई के बताए जा रहे हैं। अनुमान है कि हत्यारे ने पिंकी की गर्दन दबाकर एक के बाद एक चाकू से आठ प्रहार किए। वारदात के बाद मौके पर पुलिस अधिकारी मौजूद थे। बड़ी संख्या में लोग भी मौके पर जमा हो गए।

मोबाइल शॉप की फर्श और काउंटर पर भी खून के छींटे पाए गए हैं जिससे कि यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि मृतका ने हत्यारे के साथ काफी संघर्ष किया। बता दें कि जिला पौड़ी तहसील धुमाकोट के ग्राम दिगौलीखाल निवासी पिंकी रावत (22) पुत्री मनोज रावत तीन माह से इस शोरूम में काम कर रही थी।वह काशीपुर में स्टेडियम के पास मानपुर रोड पर रहती थी। वही अभी स्पष्ट नहीं हो पाया है कि हत्यारा अकेला था या उसके साथ और भी साथी थे।

Sales girl killed :काम नहीं कर रहा था दुकान का सीसीटीवी

जिस वक्त यह पूरी घटना हुई उस वक्त दुकान में पिंकी सिर्फ अकेली थी। दुकान में सीसीटीवी काम ना करने के कारण हत्यारे का पता लगाना थोड़ा मुश्किल हो रहा है। दुकान के आसपास घर और दुकानों के सीसीटीवी भी काम नहीं कर रहे थे। जिससे पुलिस को हत्यारे को ढूंढने में काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। लेकिन पुलिस के अनुसार हत्यारा वारदात को अंजाम देने के बाद शोरूम के बगल से जा रही गली से भागा होगा।

घटनास्थल से पिंकी का मोबाइल फोन मिला है। पुलिस उसकी हत्या का राज उसके मोबाइल सेट में छिपे होने की संभावना जता रही है। उसके मोबाइल में पासवर्ड लगा हुआ था। साइबर सेल की मदद से मोबाइल को डिकोड किया गया। पुलिस मृतका के मोबाइल की सीडीआर निकलवाकर जांच में जुटी हुई है।

शुक्रवार दोपहर करीब 12 बजे मनीष चावला(शोरूम मालिक) ने पुलिस को इस घटना की सूचना दी कि शोरूम में सेल्स गर्ल पिंकी की किसी ने हत्या कर दी है। शोरूम से करीब डेढ़ लाख रुपये कीमत के 11 मोबाइल भी गायब थे। एएसपी डॉ. जगदीश चंद्र ने बताया कि इस वारदात का उद्देश्य लूट या रंजिश भी लग रही है।

Weuttarakhand

MORE STORIES

Loading...