Home bizzare news देश के पहले मतदाता देवभूमि के श्याम नेगी 102 वर्ष की उम्र...

देश के पहले मतदाता देवभूमि के श्याम नेगी 102 वर्ष की उम्र में करेंगे मतदान, जानिए उनकी कहानी

-

श्याम शरण नेगी. स्वतंत्र भारत के पहले मतदाता. नेगी उम्र का एक शतक पूरा कर चुके हैं लेकिन मतदान के लिए उनके अंदर आज भी जज्बा पहली बार की तरह कायम है. 102 उम्र होने के बावजूद भी वो लोकसभा चुनाव 2019 में मतदान करने के लिए तैयार है. 1952 में आजाद भारत में सबसे पहले आम चुनाव हुए थे. श्याम नेगी(Shyam Saran Negi) ने देश में सबसे पहले वोट डालकर इतिहास में अपना नाम दर्ज कराया था .

Shyam Saran Negi with his Wife
Credit – IT

किन्नौर में चुनाव से पहले विशेष मतदान

हिमाचल के सुदूरवर्ती इलाके में बसा किन्नौर सर्दियों में बर्फ से लकदक हो जाता है. सर्दियों में ज्यादा बर्फबारी के चलते यहां जनजीवन अस्त व्यस्त हो जाता है. उस दौरान देश में पहले आम चुनाव की तैयारी चल रही थी. सर्दियों में बर्फ से ढके होने के कारण किन्नौर क्षेत्र में 1952 के आम चुनाव से 6 महीने पहले 1951 में विशेष चुनाव कराए गए. इस विशेष चुनाव में सबसे पहले मतदान करने का मौका श्याम सरण नेगी को मिला.

credit – OneIndia

गूगल ने श्याम नेगी पर बनाई है वीडियो

गूगल इंडिया ने 2014 में श्याम सरण नेगी पर एक वीडियो बनाई थी – #PledgeToVote with Mr. Shyam Negi. गूगल का यह वीडियो बनाने का मुख्य उद्देश्य लोगों को मतदान के लिए जागरूक करना था. इस वीडियो में नेगी अपनी अनुभव बताते हैं –
“उन दिनों भारी बर्फ पड़ रही थी और यहां ठंड में रास्ते बंद हो जाते थे, इसलिए हमारी (किन्नौर क्षेत्र) बारी बाकी देश से 6 महीने पहले आ गई. मुझे आज भी वो दिन याद है. वो खुशी, वो गर्व जो मैंने महसूस किया. चाहे बर्फ पड़े या बारिश मैं हर दफा ये काम पूरा करता हूं”

script src=”https://apis.google.com/js/platform.js”>

पहली बार की तरह इस बार भी स्याम नेगी का जज्बा कायम है और वे लोकसभा चुनाव 2019 में भी वोट करेंगे.

यह भी पढ़ें –लोकसभा चुनाव 2019 : उत्तराखंड में 11 को होगा मतदान, ये होंगे प्रमुख चहरे और मुद्दे – (Loksabha Election 2019)

19 मई को किन्नौर के कल्‍पा बूथ पर मिलेंगे श्याम नेगी

देश के पहले मतदाता नेगी कल्पा के बूथ नंबर 51 पर 19 मई को लोकसभा चुनाव 2019 के लिए वोट करेंगे. 2014 के चुनाव में सरकार ने श्याम नेगी के लिए विशेष प्रबंधन किए थे. सरकार ने आने जाने के लिए उनके लिए गाड़ी और पोलिंग बूथ पर डॉक्टर की व्यवस्था की थी. कल्प के पोलिंग बूथ पर पहुंचते ही उनका स्वागत किया गया था.

यह भी पढ़ें –जब ‘जनरल बकरा’ ने बचाई थी गढ़वाल राइफल्स के जवानों की जान, जानिए कहानी ‘जनरल बकरा बैजू’ की…

मतदान आपका अधिकार है !

श्याम सरण नेगी

श्याम नेगी का शरीर भले ही अब जवाब देने लगा है लेकिन उनके अंदर अब भी हौसला कायम है. उनका कहना है कि कोई भी मतदाता वोट देने से ना रहे. ये आपका अधिकार है.

यह भी पढ़ें –नौकरी छोड़कर की सेब की खेती और फिर खरीदी 1.40 करोड़ की रेंज रोवर.. पढ़िए