Home National News Uttarakhand Weather Alert: झुलसती गर्मी से मिलेगी राहत, मौसम विभाग ने किया...

Uttarakhand Weather Alert: झुलसती गर्मी से मिलेगी राहत, मौसम विभाग ने किया अगले 12 घंटों का अलर्ट जारी

-

Uttarakhand Weather Alert: उत्तराखंड में मौसम ने एक बार फिर करवट ली है। मौसम विभाग ने मौसम के बदलते मिजाज को देखते हुए प्रदेश में अलर्ट जारी किया है। मौसम विशेषज्ञों के अनुसार प्रदेश के कई इलाकों में अगले 12 घंटों के दौरान ओले गिरने और तेज रफ्तार आंधी चलने का अनुमान है। मौसम में आने वाले इस बदलाव की वजह से लोगों को गर्मी से राहत मिलने की आशंका जताई जा रही है।

Uttarakhand Weather Alert: पहाड़ी इलाकों में ओलावृष्टि के आसार

प्राप्त जानकारी अनुसार पर्वतीय क्षेत्रों के कुछ इलाकों में ओले गिरने की संभावना जताई जा रही है। जिसमें उत्तरकाशी, चमोली, टिहरी, रुद्रप्रयाग, पिथौरागढ़, बागेश्वर, चंपावत व अल्मोड़ा में ज्यादा ओले गिरने के आसार हैं। तो वहीं मैदानी क्षेत्रों में तेज हवाएं चलने की आशंका जताई गई हैं, जिसकी रफ्तार 60 से 70 किलोमीटर प्रति घंटा हो सकती है।

जानकारी के अनुसार राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि गढ़वाल के कुछ मैदानी इलाकों में अधिकतम 80 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज आंधी चल सकती है। तो वहीं दक्षिण भारत में आने वाले तूफान और पश्चिमी विक्षोभ के कारण 17 और 18 जून को पूरे प्रदेश में झमाझम बारिश की संभावना है। प्री मानसून (Pre-Monsoon) की बारिश 25 जून से शुरू होगी। खराब मौसम को देखते हुए अलर्ट जारी किया गया है।

गर्मी ने किया लोगों का जनजीवन अस्त-व्यस्त

आसामान से अंगारे बरसने से हर वर्ग के लोग परेशान हैं। भीषण गर्मी में लू चलने से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। बड़ों का तो गर्मी में घरों से निकलना दुश्वार है ही, बच्चों की हालत ज्यादा खराब हो रही है। मौसम में आ रहे परिवर्तन को देखते हुए गर्मी से राहत मिलने की संभावना जताई जा रही है। मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश के ज्यादातर क्षेत्रों में बुधवार को बादल छाये रहने का अनुमान जताया गया है। इस दौरान कुछ इलाकों में गरज और चमक के साथ हल्की बारिश भी हो सकती है।

गर्मी से बचने के लिए ये सावधानी बरतें

  • जन सामान्य लू से बचने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी, तरल पदार्थ जैसे छाछ, नींबू पानी, पना आदि का उपयोग करें।
  • यात्रा करते समय पानी साथ रखें।
  • निर्जलीकरण से बचने के लिए ओआरएस का प्रयोग करें।
  • संतुलित हल्का व नियमित भोजन करें।
  • अधिक प्रोटीन वाले तथा बासी खाना खाने से बचें।
Loading...