Home Uttarakhand News Uttarakhand: देवभूमि की बेटी के सिर सजा मिसेज यूनिवर्स का ताज, 49...

Uttarakhand: देवभूमि की बेटी के सिर सजा मिसेज यूनिवर्स का ताज, 49 वर्ष में हासिल की ये बड़ी उपलब्धि

-

उत्तराखंड की बेटियां आज हर क्षेत्र में अपने प्रदेश का नाम रोशन कर रही हैं। ऐसे ही प्रदेश की बेटी नीमा पंत ने दिल्ली में वीवीएन इंटरटेनमेंट की ओर से आयोजित मिसेज इंडिया यूनिवर्स(Asia Zone) में उत्तराखंड का प्रतिनिधित्व कर मिसेज इंडिया यूनिवर्स (Mrs Universe 2019) का ताज जीतकर पूरे प्रदेश का नाम रोशन किया है। साथ ही महिला सशक्तिकरण की मिसाल भी कायम की है। उनकी इस उपलब्धि से पूरे प्रदेश में खुशी का माहौल है।

मूल रूप से अल्मोड़ा के बसौली (ताकुला) निवासी फणींद्र चंद्र पंत की पुत्री नीमा पंत का जन्म मई 1970 को अल्मोड़ा में हुआ था। पंत ने 1993 में कानपुर से स्कूली शिक्षा पूरी की। कॉलेज ऑफ नर्सिंग से बैचलर ऑफ साइंस ऑनर्स किया। कोर्स के दौरान ही वह एक्सट्रा करिकुलर एक्टिविटीज में सक्रिय रहीं। कोलकाता के बीएम बिड़ला हार्ट रिसर्च इंस्टीट्यूट से कार्डियक थोरेसिक नर्सिंग में 18 महीने का कोर्स किया। इसके बाद वर्ष 1995 में एसजीपीजीआइ में नर्सिंग अधिकारी के पद पर कार्डियोलॉजी आइसीयू में काम करना शुरू किया।

परिवार का मिला पूरा सपोर्ट

प्राप्त जानकारी के अनुसार 2006 में नीमा पंत की शादी हुई थी। पति सुदीप कुमार एसजीपीजीआइ में कार्डियोलॉजी के प्रोफेसर हैं। उनकी एक बेटी है जो कक्षा पांच में पढ़ रही है। वह कहती हैं इस उम्र में मॉडलिंग करने में परिवार का पूरा सहयोग मिला। जिसके चलते वह ये खिताब जीतने में सफल रही। बता दें कि नीमा पंत इससे पहले मिसेज नार्थ इंडिया खिताब भी जीत चुकी हैं।

सामाजिक कार्यों में रहती है काफी सक्रिय (Mrs India Universe 2019)

जानकारी के अनुसार नीमा पंत ने बताया कि उन्हें समाज की भलाई में बेहद खुशी मिलती है। स्तन कैंसर के प्रति जागरूक कर उन्होंने सैकड़ों महिलाओं को स्व स्तन परीक्षण के बारे में बताया। साथ ही लघु नाटक के जरिए महिलाओं को उनके स्वास्थ्य के बारे में जागरूक किया। अब तक उन्होंने 30 से अधिक बार रक्तदान किया है। उन्होंने अपनी इस उपलब्धि से यह साबित कर दिया की आज के युग में महिलाएं किसी भी क्षेत्र में कम नहीं हैं।

Like-We-uttarakhand-logo.jpg

Read Also

Loading...