हादसा! 3 साल की मासूम को लेकर दौड़े दरोगा, रुला देने वाली तस्वीरें आईं सामने

Yamuna Expressway: 29 people lost their lives in the accident

Yamuna Expressway: न जाने कितने लोग यमुना एक्सप्रेसवे पर ऐसी दुर्घटनाओं का शिकार होते रहेंगे। सोमवार को हुए भयानक हादसे में 29 लोगों ने अपनी जान गंवाई। इस हादसे के बाद बचाव राहत के दौरान की कुछ ऐसी तस्वीरें भी सामने आई हैं जो पूरी तरह भावुक कर देने वाली हैं। दुर्घटनाग्रस्त हुई बस से एक मासूम बच्ची को निकालकर एक दरोगा उसे इलाज के लिए ले जाने के लिए दौड़े लेकिन, लेकिन दरोगा ने जब मासूम की धड़कनें थमी देखीं तो उनकी आंखों से आंसू बह निकले। वहीं आईजी ने घायलों की मदद करने के लिए पुलिसकर्मियों और दरोगा की पीठ थपथपाई।

दरअसल सोमवार सुबह छलेसर के निकट यूपी रोडवेज की जनरथ एसी बस एक नाले में गिर गई थी। इस दुर्घटना की खबर मिलते ही घटनास्थल पर अपनी टीम के साथ पहुंचे छलेसर चौकी इंचार्ज अनिरुद्ध प्रताप सिंह ने राहत कार्य शुरू किया तो उन्होंने देखा कि वहां पर एक छोटा बच्चा भी दबा है, बस फिर क्या था वो बिना सोचे समझे नाले के गहरे पानी में कूद गए ।

चौकी इंचार्ज अनिरुद्घ प्रताप के साथ सिपाही मुकेश, सत्यप्रकाश, प्रमोद, गोविन्द भी कूद पड़े और स्थानीय ग्रामीणों की मदद से मृतक व घायलों को बाहर निकालने लगे। इस दौरान एक सिपाही का पैर गहरे गड्ढे में चला गया। बस को पकड़कर उसने खुद को बचाया।जब चौकी इंचार्ज एक 3 साल के मृत बच्ची को अपने हाथों में लेकर नाले से बाहर आए, तो उनकी आंखों से आंसू बह निकले। उस समय तक आईजी रेंज ए सतीश गणेश घटनास्थल पर पहुंच चुके थे। उन्होंने अनिरुद्ध प्रताप सिंह की पीठ थपथपाई। वहीं आसपास खड़े लोग बोले, इन्हें पुरस्कार मिलना चाहिए। आईजी ने जवाब देते हुए कहा कहा, क्यों नहीं, बहुत अच्छा काम किया है।

इस घटना के बाद राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री सहित कई नेताओं ने दुख व्यक्त किया था। वहीं दुर्घटना में घायल हुए लोगों का इलाज आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज, श्रीकृष्णा हॉस्पिटल और चौहान हॉस्पिटल में चल रहा है।

READ ALSO :

भीषण हादसा! गिरते ही बस के उड़े परखच्चे,नशे में थे चालक-परिचालक, 21 लोग…पढ़ें पूरी खबर

Karishma Shah: पहाड़ी मैशअप ने मचाई यूट्यूब पर धूम, अब तक एक करोड़ से ज्यादा लोग देख चुके हैं, ये वीडियो